Editor Login

अतिक्रमणकारियों पर चला डीआईजी का डंडा , बुलडोजर से दर्जनों का सफाया

अतिक्रमणकारियों पर चला डीआईजी का डंडा , बुलडोजर से दर्जनों का सफाया

>> जाम से निजात के लिए लगातार अतिक्रमण मुक्त अभियान रहेगा जारी – राजेश कुमार

पटना ( अ सं ) । राजधानी को अतिक्रमणकारियों से मुक्ति दिलाने को डीआईजी राजेश कुमार ने ठान लिया हैं । अतिक्रमण मुक्त अभियान में प्रथम दिन गुरुवार को डीआईजी का बुलडोजर दर्जनों स्थानों पर चला और देर शाम तक बहुत कुछ सफाया हो गया । डीआईजी राजेश कुमार के अनुसार यह अभियान ,फिलहाल लगातार जारी रहेगा ।
पटना ,शहर में जाम की बदतर स्थिति पर कई बार हाईकोर्ट ने संज्ञान लेते हुये सरकार को तलब किया हैं ।कई बार आंदोलन के डर से जिला पुलिस -प्रशासन हाथ मोड़ लेती थी। लेकिन इस बार कुछ ऐसा होते हुये नहीं दिख रहा हैं । डीआईजी राजेश कुमार ने सख्त कदम उठाते हुये ,राजधानी को अतिक्रमण मुक्त करने के लिए 6 टीमें गठित किया हैं और सभी की जिम्मेदारी तय कर दिया हैं ।
पहले चरण में पटना जंक्शन, कारगिल चौक, अशोक राज पथ, जीपीए गोलंबर, गायघाट, आलमगंज, मीठापुर बस स्टैंड ,महावीर कैंसर संस्थान ,फुलवारीशरीफ, पैठिया बाजार को अतिक्रमण मुक्त किया गया । इस दौरान कई लोगों ने हंगामा खड़ा करना चाहा एवं राजनीतिक संरक्षण की बात कहीं लेकिन अतिक्रमण मुक्त टीम पर इसका कोई असर नहीं हुआ और टीम ने डीआईजी का आदेश पत्र दिखाते हुये डीआईजी से बात करने की सलाह दे डाली । इसके बाद सभी मुंह देखते रह गये और प्रशासन के बुलडोजर ने देखते ही देखते अतिक्रमण साफ कर दिया । प्रशासन ने यह भी सूचना सुना दिया की अगर अतिक्रमण किये तो कानूनी कार्रवाई के साथ 10 हजार रूपये का दंड भरना होगा ।
डीआईजी राजेश कुमार की मानें तो जाम से निजात के लिए राजधानी को अतिक्रमण मुक्त करने का अभियान लगातार जारी रहेगा । पहले चरण में दानापुर से लेकर पटना सीटी और फुलवारीशरीफ तक अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा ।इसके बाद पटना जिले के ग्रामीण स्तर के मुख्य बाजारों को भी अतिक्रमण मुक्त कराया जाएगा । डीआईजी राजेश कुमार ने बताया की अक्सर यह देखा जाता हैं की सड़क पर अतिक्रमण से जाम के कारण मरीजों का एम्बुलेंस फंसी रहती हैं । सायरन के आवाज पर भी कुछ नहीं हो पाता । अतिक्रमण एक गंभीर समस्या हैं मानव कल्याण के लिए अतिक्रमण मुक्त जरूरी हैं ।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *